यूक्रेन बॉर्डर पर पहुंचे भारतीय अधिकारियों ने पाकिस्तानी,बांग्लादेशी और अन्य देशों के स्टूडेंट्स को भी वॉर जोन से निकलने में की मदद

Spread the love

THEPOPATLAL रूस-यूक्रेन युद्ध के बीच भारत सरकार ने 20 हजार भारतीयों को बाहर निकालने के लिए ऑपरेशन गंगा चलाया, जिसके तहत अब तक 18 हजार से ज्यादा भारतीयों की वतन वापसी हो चुकी है। यूक्रेन के बॉर्डर पर पहुंचे अधिकारियों ने पाकिस्तानी, बांग्लादेशी और अन्य देशों के स्टूडेंट्स को भी वॉर जोन से निकलने में मदद की। उन्हीं में से एक पाकिस्तान की अस्मा शफीक भी रहीं।
वहीं बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना ने ‘ऑपरेशन गंगा’ के तहत यूक्रेन से 9 बांग्लादेशी नागरिकों को बचाने के लिए पीएम मोदी को धन्यवाद दिया है। ऑपरेशन के दौरान भारतीयों के अलावा नेपाल और ट्यूनीशिया के छात्रों को भी रेस्क्यू कर निकाला गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.