नही है कोई बीमारी, लेकिन किस्मत ने बना दिया विकलांग, अब मोहित माहेश्वरी ने थामा हाथ, स्कूल जाएगा आदित्य सोनी

Spread the love

“दीपक ठाकुर की रिपोर्ट”

कवर्धा। आदित्य सोनी उम्र करीब 11 वर्ष क्लास 6 वी का अचानक स्वास्थ्य खराब सामान्य बुखार हुआ और उसे हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया। लेकिन वहां इलाज के बाद भी ठीक नहीं हुआ। फिर गरीबी के कारण बड़े शहर नही ले गए और शहर में ही दूसरे अस्पताल में भर्ती करवा दिया गया। करीब तीन से चार अस्पताल में जाने के बाद आदित्य सोनी ठीक हुआ। उसके परिजन व आदित्य स्वयं बहुत खुश हुआ और पलँग से खड़ा हुआ तो पता चला आदित्य चल ही नही पा रहा है। उसके व पूरे परिवार पर मुशीबतों का पहाड़ टूट खड़ा हुआ। इसके बाद वह चल ही नही पा रहा है। वह एक पैर से विकलांग हो गया। गरीब परिवार के होने के बाद भी उसे रायपुर के बड़े से बड़े डाक्टर को दिखाया पर वह ठीक नही हो सकता। लेकिन वार्ड नंबर 23 के पार्षद मोहित माहेश्वरी से उसके पिता जी मिले तो मोहित ने हर सम्भव मदत्त का भरोसा दिलाया और मंत्री मोहम्मद अकबर से मुलाकात कराया, मंत्री ने भी हर सम्भव मदद करने की बात कही इसके बाद मोहित ने उससे सबसे पहले शासन की योजना के तहत उसे चल सके और स्कूल जा सके इसके लिए उसे साम्रगी मोहित माहेश्वरी द्वारा दिलाया गया।अब स्कूल जाएगा आदित्यतकरीबन चार माह बाद आदित्य सोनी फिर से स्कूल जाएगा। और अपने पैर से चलेगा। आदित्य पैर से नही चल सकने के कारण मोहित लाभ दिलाया अब आदित्य उसी के सहारे चल रहा है। लेकिन स्कूल कैसे जाए। इसके लिए मोहित माहेश्वरी ने केंद्रीय विद्यालय तक जा सके इसके लिए एक ई रिक्सा किया है व ई रिक्सा वाला उसे क्लास रूम तक बैठाएगा। वही कलेक्टर की मद्दत से उसी पीछे छुट्टे पढ़ाई को केंद्रीय विद्यालय के शिक्षक कराएंगे।मंत्री ने भी बढ़ाया सहयोग का हाथमोहित माहेश्वरी ने बताया कि मंत्री मोहम्मद अकबर जी ने उनकी परिस्थितियों को समझा है। आदित्य की माँ भी विकलांग है और परिवार आर्थिक रूप से कमजोर है। इसके कारण आदित्य की इलाज करने मंत्री जी भी सहयोग के लिए तैयार है। दिल्ली, बॉम्बे के डॉक्टरों से मोहित सम्पर्क कर बच्चे के एक्सरे भेज रहे है। उम्मीद है जल्द चल सके ऐसा प्रयास किया जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.