पुलिस वाला बनकर गांजा चेकिंग के बहाने कलेक्शन की रकम 892000 रुपये लूटने वाले 06 आरोपी गिरफ्तार,5 लाख 90 हजार रुपये व बोलेरो जब्त

Spread the love


रायपुर। कलेक्शन की रकम लूटने वाले 6 आरोपियों को पुलिस ने 24 घण्टे के भीतर गिरफ्तार कर उनसे लूटी गई नगद 5,90,000/- रूपये को बरामद कर घटना में प्रयुक्त बोलेरो वाहन को जप्त कर लिया है। मामले का खुलासा करते हुए पुलिस ने बताया कि प्रार्थी लक्ष्मीनारायण देवांगन पिता भोलाराम देवांगन उम्र 48 साल निवासी सेमलिया रायपुर के द्वारा थाना खल्लारी में आकर रिपोर्ट दर्ज कराया था, कि वह विजय वाॅच रायपुर में मार्केटिंग का काम करता है, दिनांक 13.06.2022 को मारूती ओमनी क्रमांक CG04 HA 8762 में चालक संतोष साहु के साथ राजिम, गरियाबंद, देवभोग, भवानीपटनम्, बरगढ, बलांगीर से कलेक्शन व मार्केटिंग करते हुये व दिनांक 22.06.2022 को खरियार रोड में मार्केटिंग व सेल्स कलेक्शन का रकम लगभग 8,92,000/- रूपये लेकर करीबन 11 बजे बागबाहारा से रायपुर जाने के लिए निकले। कलेक्शन का रकम एवं रसीद/लेजर बुक को अपने कपडे वाले काले रंग एवं मिलेट्री रंग की दोनो बैग में अलग-अलग समान के साथ पीछे में रखा था। साथ में ड्रायवर संतोष साहू का काला बैग भी वही रखा हुआ था जिसे लेकर जब वें लोग दोपहर करीबन 2:45 बजे भीमखोज एवं एम के बाहरा एनएच-353 रोड के बीच में पहुचे थे। कि पीछे-पीछे बागबाहरा की ओर से आ रही एक सफेद रंग की बिना नंबर बोलेरो गाडी प्रार्थी की कार को ओवरटेक करते हुये आगे खड़ी कर उनका गाड़ी को रोके। बोलेरो गाड़ी में से 03 लोग नीचे उतरे जिन्होंने अपना चेहरा गमछा से ढका हुआ था अपने आप को पुलिस वाले बताये और बोले कि तुम लोग गांजा लेकर जा हरे हो तुम्हारी गाड़ी चेक करना है। और कहां से आ रहे हो कहते हुये हमे नीचे उतारे और प्रार्थी व ड्रायवर संतोष साहू को अपनी गाड़ी बोलेरो में जबरदस्ती बैठायें जिसमें ड्रायवर पहले से बैठा हुआ था। उनकी गाड़ी की चाबी को रखकर उनमें से एक व्यक्ति ने गाडी में रखे काले रंग एवं मिलेट्री रंग के बैग जिसमें पैसे करीबन 8,92,000/- रूपये रखे थे उस बैग को अपने गाडी बोलेरो में रख लिये और उन्हें ग्राम जामली रास्ते अंदर जंगल में थोडी दुर ले जाकर हांथ को पीछे टेप से बांध कर व हमारे मोबाईल के सीम को निकालकर तोड दिये और मोबाईल फोन को हम लोगो के जेब में छोड दिये। 04 अज्ञात व्यक्तियों द्वारा काले रंग व मिलेट्री रंग के बैग में रखे पैसे नगदी रकम 8,92,000/- रूपये व रसीद/लेजर बुक को दोनो बैग सहित लुट कर ले गये। घटना की सूचना मिलने उपरांत पुलिस महानिरीक्षक ओपी पाल द्वारा घटना की गंभीरता को देखते हुये तत्काल पुलिस अधीक्षक महासमुन्द विवेक शुक्ला को अपने निर्देशन में सायबर सेल महासमुन्द एवं थाना खल्लारी टीम को आरोपी की पता तलाश करने हेतु निर्देशित किया गया। टीम द्वारा समस्त पहलुओ पर गहनता एवं सुक्ष्मता से जाॅच कर, जाॅच दौरान टेमरी बार्डर से रायपुर रूट तक के समस्त सीसीटीव्ही फुटेज चेक किया गया। तथ्य सामने आया कि ओडिशा बाॅडर से एक बिना नम्बर प्लेट की सफेद रंग की बोलेरो लगातार प्रार्थी की मारूती ओमनी का पीछा कर थी। उक्त बोलेरो वाहन के संबंध में पतासाजी करने पर पता चला कि उक्त वाहन बोलेरो जिसका नम्बर CG 04 LP 3599 था उक्त वाहन सीसीटीवी कैमरें में प्रार्थी के वाहन के तुरन्त वाहन के पीछा कर रहे थे। और भी बहुत सारे रोड में लखे सीसीटीवी कैमरा में वही बोलेरो वाहन मारूति वाहन का पीछा करता हुआ दिखा। उक्त संदिग्ध वाहन की पता तलाश कर ज्ञात हुआ कि यह वह वाहन भिलाई स्टील प्लाॅंट में प्राईवेट ड्रायवर सुरेश कौशल चलाता है। सुरेश कौशल का पता तलाश कर उसे हिरासत में लिया गया और घटना के दिन और संबंध में कडाई से पूछताछ करने पर बताया कि रायपुर का रहने वाला मनोज करवाडे उक्त लूट का मास्टर माईड है। जिसे रायपुर भाठागांव से पतासाजी कर हिरासत में लिया गया। पूछताछ के दौरान पता चला कि (01) मनोज करवाड़े पिता निवास करवाड़े उम्र 49 वर्ष भाटागांव ब्रह्म कॉलोनी थाना पुरानी बस्ती रायपुर जिला रायपुर का रहने वाला है और पूर्व में विजय वाॅच रायपुर में कलेक्शन व गाडी चालाने का काम कर चुका है और लगभग 03-04 माह पूर्व काम छोड चुका है। मनोज, प्रार्थी के भाती वह भी इस तरह से पैसा कलेक्शन कर लाकर जमा करता था। जिसे उक्त सारी गतिविधियों की जानकारी थी और उसे पैसों की बहुत जरूरत थी। टीम द्वारा मनोज करवडे को भाठागांव रायपुर से हिरासत में लेकर पूछताछ किया गया। कडाई से पूछताछ करने पर बताया कि व बहुत दिनों से आर्थिक तंगी से गुजर रहा था और एक पैर से विंकलांग होने कारण सही ढंग से काम भी नही कर पा रहा था। तभी उसने अपने साथ पूर्व में काम करने वाले लक्ष्मीनारायण देवांगन के बारे में जानकारी लिया और उसे पता चला कि वह ओडिशा गया है 22 जून को खरियार रोड ओडिशा से महासमुन्द होते हुये कलेक्शन कर पैसा लेकर रायपुर आने वाला है। तभी उसने डैकेती करने की योजना बनाया और अपने मित्र (02) सुरेश कौशल पिता स्वर्गीय गोरख राम कौशल जाति महार उम्र 41 वर्ष जोन 3 खुर्सीपार कौशल नगर थाना खुर्सीपार जिला दुर्ग से डकैती करने के लिए तैयार किया और उसे 03-04 लोग और साथ में लाने को बोला जिसपे सुरेश कौशल द्वारा (03) दर्शन दास मानिकपुरी पिता पुणे दास मानिकपुरी उम्र 22 वर्ष खुर्सीपार जोन 2 सेक्टर 11 थाना खुर्सीपार जिला दुर्ग छत्तीसगढ़ (04) अभिषेक कुमार उर्फ सनी महार पिता श्री राजेंद्र महाराज उम्र 21 वर्ष शास्त्री नगर जोन 2 खुर्सीपार हाई स्कूल के पास था थाना खुर्सीपार जिला दुर्ग (05) राजेश सोनी पिता बाढ़हू सोनी उम्र 30 वर्ष भिलाई 3 चरौदा थाना भिलाई 3 जिला दुर्ग (06) संजय यादव पिता स्वर्गीय द्वारिका यादव उम्र 28 वर्ष जोन 2 सेक्टर खुर्सीपार भिलाई थाना खुर्सीपार जिला दुर्ग छत्तीसगढ़ को इकटठा कर अपने सफेद रंग के बोलेरो वाहन में डकैती करने के लिए भिलाई से राजिम होते हुये नुवापाडा ओडिशा पहुचे और घटना का मास्टर माईण्ड मनोज करवडे अपनी होण्डा साईन मोटर सायकल से रैकी करते हुये पहले से ही नुवापाडा ओडिशा पहुच गया था। जहाॅ से सभी लोग प्रार्थी लक्ष्मीनारायण देवांगन की रैकी करने लग गये व प्रार्थी व उसकी गाडी का पीछा करते-करते सुनसान जगह भीमखोज एवं एम के बाहरा एनएच-353 रोड के बीच में पुलिस बनकर गांजा परिवहन करने संबंध में गाडी चेकिंग का बाहना बनाकर प्रार्थी व उसका ड्रायवर को बंधक बनाकर करके दूर जंगल में ले जाकर हाथ-पैर बांध दिये और कार में रखे कलेक्शन के पैसे को लूट कर मौके से फरार हो गये। और सभी लूट की रकम को आपस में बाट कर सभी अपने-अपने घर चले गये।
जप्ती सामग्री:-

  1. लूट का नगदी रकम 5,90,000/- रूपये।
  2. सफेद रंग की बोलेरो वाहन क्रमांक CG 04 LP 3599 कीमति 5,00,000/- रूपये।
  3. एक मोटरसाइकल होंडा साईन क्रमांक CG07 AN 7625 कीमति 30,000/- रूपये।
  4. एक नग मोबाइल कीमति 10,800/- रूपये।
    कुल जुमला कीमति 11,30,800/- रूपये (ग्यारह लाख तीस हजार आठ सौ)।

Leave a Reply

Your email address will not be published.