सहारा कंपनी के निवेशकों की राशि भुगतान कार्य में तेजी लाएं : कलेक्टर

Spread the love


राजनांदगांव । कलेक्टर डोमन सिंह ने आज कलेक्टोरेट सभाकक्ष में राजस्व अधिकारियों की बैठक ली। कलेक्टर श्री सिंह ने कहा कि सभी राजस्व अधिकारी चिटफंड कंपनी के प्रकरण का रिकार्ड सुरक्षित संधारित करना है। सहारा कंपनी के निवेशकों के आवेदनों का प्रकरण एवं प्रतिदिन दिए जा रहे राशि की जानकारी संधारित करें। उन्होंने कहा कि सहारा कंपनी के प्रकरण कंपनी से सत्यापन होना जरूरी है। निवेशकों के भुगतान लंबित न रखे और राशि वितरण का कार्य शीघ्रता से करें। उन्होंने कहा कि प्रतिदिन निवेशकों की संख्या बढ़ाते हुए भुगतान करने की आवश्यकता है। कलेक्टर ने कहा कि नामांतरण, बटवारा, सीमांकन के प्रकरण लंबित न हो। जनसामान्य अपनी समस्याओं को संवेदनशीलता पूर्वक प्राथमिकता से करें। उन्होंने कहा कि गिरदावरी की तैयारी करें। उन्होंने अतिवृष्टि, अल्पवृष्टि के कारण हुई फसल क्षति की जानकारी ली। उन्होंने कहा कि आरबीसी 6-4 प्रकरण का निराकरण समय पर कर दें। उन्होंने भू-अर्जन के प्रकरणों के संबंध में मुआवजा भुगतान की स्थिति के संबंध में जानकारी ली।
कलेक्टर श्री सिंह ने डोंगरगढ़़ मेला को ध्यान में रखते हुए समुचित व्यवस्था करने के निर्देश दिए। उन्होंने वहां झुला के लिए एसडीएम से अनुमति लेने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि विद्युत, पेयजल, प्राथमिक उपचार एवं अन्य व्यवस्था की जानी है। कलेक्टर ने भेंट मुलाकात कार्यक्रम में संबंध में चर्चा की। उन्होंने डोंगरगढ़ में सी-मार्ट के संबंध में आवश्यक जानकारी ली। कलेक्टर ने कहा कि जिले में गुड मार्निंग राजनांदगांव कार्यक्रम प्रारंभ किया गया है। इसके अंतर्गत स्थानीय स्तर पर प्रतिमाह के प्रथम शनिवार को दिग्विजय स्टेडियम में सुबह 6 बजे से खेल-कूद मॉर्निंग वर्कआउट एवं गेट-टू-गेदर कार्यक्रम प्रारंभ होंगे। कलेक्टर ने कहा कि कोविड-19 संक्रमण के बाद लोगों में स्वास्थ्य के प्रति जागरूकता लाने एवं स्वस्थ्य जीवन शैली को अपनाने के लिए खेलों को बढ़ावा दिया जा रहा है। इसके माध्यम से जनसामान्य एवं अधिकारियों के बीच बेहतर समन्वय एवं शासकीय विभागों में एक बेहतर कार्य संस्कृति विकसित होगी। कलेक्टर ने कहा कि जनसामान्य यहां खो-खो, कराटे जैसे खेलों को शामिल करें। उन्होंने कहा कि अन्य विकासखंडों में भी यह कार्यक्रम संचालित होगा। कलेक्टर ने कहा कि कोविड-19 टीकाकरण के लिए विशेष ध्यान देते हुए कार्य करें। गौठानों को रूरल इंडस्ट्रियल पार्क बनाने की दिशा में कार्य करते रहें। उन्होंने लाल बहादुर नगर को नया तहसील बनाने के बाद वहां के कामकाज के संबंध में जानकारी ली। उन्होंने आपदा मित्र प्रशिक्षण तथा राजीव गांधी ग्रामीण भूमिहीन कृषि मजदूर न्याय योजना एवं नगरीय क्षेत्रों में 7 हजार 500 वर्ग फीट तक अतिक्रमित शासकीय नजूल भूमि को व्यवस्थापन प्रकरणों के स्थिति के संबंध में जानकारी ली। नगर निगम आयुक्त आशुतोष चतुर्वेदी ने बताया कि जनसामान्य में स्वस्थ जीवन शैली को अपनाने के लिए यह पहल आरंभ की गई है। जिसमें सभी की सहभागिता रहेगी। इस अवसर पर अपर कलेक्टर सीएल मारकण्डेय, संयुक्त कलेक्टर श्रीमती इन्दिरा देवहारी, संयुक्त कलेक्टर खेमलाल वर्मा, एसडीएम अरूण वर्मा, एसडीएम गिरीश रामटेके, एसडीएम सुनील नायक सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.