अग्निवीर योजना के विरोध में राष्ट्रपति के नाम सौंपा ज्ञापन

Spread the love

“संतोष सोनकर की रिपोर्ट”

राजिम। संयुक्त किसान मोर्चा के देशव्यापी आह्वान पर 24 जून को अखिल भारतीय क्रांतिकारी किसान सभा के सदस्यों ने तहसील परिसर फिंगेश्वर में प्रदर्शन कर राष्ट्रपति के नाम तहसीलदार राजिम को ज्ञापन सौंप कर सेना का निजीकरण, भगवाकरण करने वाली अग्निवीर योजना को रद्द करने की मांग किया है। साथ ही नया रायपुर में पिछले पांच महीने से जारी नई राजधानी प्रभावित किसानों के आंदोलन का समर्थन करते हुए उनकी मांगों के संदर्भ में राज्यपाल के नाम ज्ञापन सौपा गया। इस अवसर पर अखिल भारतीय क्रांतिकारी किसान सभा के प्रदेश उपाध्यक्ष मदन लाल साहू, सचिव तेजराम विद्रोही, रेखुराम साहू ने कहा कि हमने राष्ट्रपति को संबोधित पत्र में कहा कि आप देश के मुखिया होने के साथ-साथ भारत की सेना के सर्वोच्च कमांडर भी हैं। देश में जवान और किसान के अभिन्न रिश्ते से आप परिचित हैं। इसलिए हम भारत के जवान और किसान इस उम्मीद के साथ आपसे यह अपील कर रहे हैं कि आप “अग्निपथ” नामक योजना से देश, जवान और किसान के भविष्य के साथ होने वाले खिलवाड़ को रोकेंगे। नई राजधानी प्रभावित किसानों के आंदोलन का समर्थन करते हुए राज्यपाल छत्तीसगढ़ शासन से निवेदन किया है कि नई राजधानी प्रभावित किसानों का आंदोलन 3 जनवरी 2022 से नया रायपुर विकास प्राधिकरण के सामने कयाबांधा में पिछले पांच माह से जारी है। इस बीच प्रशासन द्वारा आंदोलनरत किसानों के पंडाल को दो बार तोड़कर नष्ट कर दी गई फिर भी आंदोलन जारी है। जिसके मुख्य मांगे है कि नया रायपुर पुनर्वास योजना के अनुसार अर्जित भूमि के अनुपात में उद्यानिकी/ आवासीय/व्यवसायिक भूखंड पात्रतानुसार निःशुल्क मिलने के प्रावधान का पालन किया जाना चाहिए। भू अर्जन कानून 1894 के अंतर्गत हुए अवार्ड में भूस्वामियों को मुआवजा प्राप्त नहीं हुए हैं उन्हें बाजार मूल्य से 4 गुणा मुआवजा मिलनी चाहिये। नवा रायपुर क्षेत्र में ग्रामीण बसाहट का पट्टा मिलना चाहिए। वार्षिकी राशि का पूर्ण रूपेण आबंटन किया जाना चाहिए। पुनर्वास पैकेज 2013 के तहत सभी वयस्कों को 1200 वर्गफीट मिलने वाली भूखंड दिया जाए। साल 2005 से भूमि क्रय विक्रय पर लगे प्रतिबंध को तत्काल हटाया जाए। गुमटी, चबूतरा, दुकान, व्यवसायिक परिसर में दुकान जो आबादी से सटी हुई है जिसे 75 प्रतिशत प्रभावितों को लागत मूल्य पर देने के प्रावधान का पालन किया जाए।कार्यक्रम में अखिल भारतीय क्रांतिकारी किसान सभा के उपाध्यक्ष मदन लाल साहू, सचिव एवं छत्तीसगढ़ किसान मजदूर महासंघ के संयोजक मंडल सदस्य तेजराम विद्रोही, किसान सभा के सदस्यगण रेखुराम, जहूर राम, पवन कुमार, सोमन यादव, पदुमराम, मनोज कुमार, कपूर साहू, केशव निषाद, खेलन ध्रुव, डोमन यादव आदि सम्मिलित हुए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.