अग्निपथ के विरोध में सत्याग्रह आंदोलन में बोले विधायक डॉ केके ध्रुव–”केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार देश की सुरक्षा व अस्मिता के साथ कर रही खिलवाड़”

Spread the love

”प्रयास केवर्त की रिपोर्ट”

गौरेला पेन्ड्रा मरवाही । अग्निपथ की आग पूरे देश में लगी हुई है।जम्मू से लेकर कन्याकुमारी तक विपक्षी दल इसके खिलाफ ताल ठोक के बैठी हुई है और वे सभी इसे वापस लेने की मांग केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार से कर रहे हैं।विपक्षी दलों को यह पूरा भरोसा है कि कृषि कानून की तरह इसे भी सरकार।को वापस लेना ही पड़ेगा।परंतु इसके उलट केंद्र सरकार ने अग्निपथ योजना के तहत अग्निवीरो की सेना में भर्ती के लिए नोटिफिकेशन जारी कर दिया। इधर इसके विरोध में युवाओं सहित प्रमुख विपक्षी पार्टियों का जोरदार प्रदर्शन भी चल रहा है। आज केंद्र सरकार की अग्निपथ योजना का विरोध करते हुए समूचे छत्तीसगढ़ में कांग्रेस के सभी विधायक अपने अपने विधानसभाओं में सत्याग्रह आंदोलन कर रहे हैं।
छत्तीसगढ़ के मरवाही में भी अग्निपथ योजना का विरोध राष्ट्रीय कांग्रेस कमेटी के मंशा अनुरूप प्रदेश कांग्रेस कमेटी के निर्देश पर मरवाही विधायक डॉ केके ध्रुव के नेतृत्व में मरवाही में किया गया। जिसमे विधायक डॉ केके ध्रुव सहित उपस्थित कांग्रेसी नेताओ ने इस योजना का जोरदार विरोध किया और केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार से इस योजना को वापस लेने की मांग की। अग्निपथ योजना के विरोध प्रदर्शन के दौरान उपस्थित कांग्रेस जन को संबोधित करते हुए मरवाही विधायक डॉ केके ध्रुव ने कहा कि अग्निपथ योजना से देश की नरेंद्र मोदी सरकार देश के युवाओं को छल रही है। उन्होंने कहा कि पहले सेना में 20 साल के लिए भर्ती होती थी परंतु अब केंद्र की सरकार अब 4 साल के लिए संविदा में सेना रखना चाह रही है।विधायक डॉ केके ध्रुव ने कहा कि देश के युवाओं को न्यून वेतन और फंड से संविदा में सेना में भर्ती कर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी देश की अस्मिता व सुरक्षा के साथ खेलवाड़ कर रही है।विधायक डॉ केके ध्रुव ने कहा कि नरेंद्र मोदी जी को चाहिए कि वे युवाओं को दीर्घकाल तक सेना में रखकर उनके सेवाओं का लाभ ले न कि 4 साल के लिए उन्हें बंदूक चलना सिखाकर उन्हें खुला छोड़े। इस सत्याग्रह आंदोलन में विधायक डॉ केके ध्रुव के अलावा जिला कांग्रेस अध्यक्ष मनोज गुप्ता सहित जिला कांग्रेस के पदाधिकारी,ब्लाक कांग्रेस के पदाधिकारी,महिला कांग्रेस के पदाधिकारी, यूथ कांग्रेस के पदाधिकारी सहित कांग्रेस के विभिन्न अनुसंगानविक संगठनों के पदाधिकारी बड़ी संख्या में उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.