नूपुर शर्मा के समर्थन में पोस्ट करने पर गला रेतकर हत्या,दो गिरफ्तार

Spread the love

राजस्थान । उदयपुर में नूपुर शर्मा के समर्थन करने पर 2 लोगों ने युवक की दिनदहाड़े गला रेतकर हत्या कर देने के मामले में पुलिस ने दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। मामले में हिंदू संगठनों का जगह-जगह प्रदर्शन जारी है। विरोध के तौर पर दुकानें बंद करा दी गई हैं।
पुलिस के मुताबिक धानमंडी थाना क्षेत्र में हुई घटना के बाद उदयपुर के धानमंडी, घंटाघर, हाथीपोल, अंबामाता, सूरजपोल, भूपालपुरा एवं सवीना पुलिस थाना क्षेत्रों में आवागमन पूरी तरह बंद कर दिया गया है। यहां आगामी आदेश तक कर्फ्यू लागू रहेगा। पुलिस ने एहतियात बरतते हुए अगले 24 घंटे तक इंटरनेट सेवा बंद कर दी गई है।
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की है। उन्होंने कहा है कि आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। बता दें कि उदयपुर शहर के धानमंडी थाना क्षेत्र के मालदास स्ट्रीट में 2 लोगों ने एक युवक की दिनदहाड़े गला रेतकर हत्या कर दी। बताया जा रहा है कि मृतक युवक के 8 साल के बेटे ने नूपुर शर्मा के समर्थन में सोशल मीडिया में पोस्ट किया था। जिसके बाद दो लोगों ने उसके पिता की बेरहमी से हत्या कर दी। दिल दहला देने वाली इस वारदात से इलाके में सनसनी फैल गई है।
हत्या को अंजाम देने वाले एक आरोपी का नाम रियाज मोहम्मद है। वह भीलवाड़ा के आसींद इलाके का रहने वाला है। दूसरे आरोपी का नाम गोस मोहम्मद है। वह उदयपुर के खांजीपीर इलाके का रहने वाला है। घटना की सूचना मिलने के बाद धानमंडी और घंटाघर थाना पुलिस मौके पर पहुंच गई और घटना का जायजा लिया। पुलिस ने शव को एमबी हॉस्पिटल की मोर्चरी में रखवा दिया है। मृतक का नाम कन्हैयालाल है।
भाजपा नेता कपिल मिश्रा ने उदयपुर में हुए हत्याकांड के खिलाफ दिल्ली के जंतर-मंतर में 29 जून की शाम 5 बजे श्रद्धांजलि सभा और आतंक के नाश संकल्प मार्च निकालने का ऐलान किया है।
भाजपा नेता राज्यवर्धन सिंह राठौर ने ट्वीट कर कहा कि उदयपुर की इस नृशंस घटना की जिम्मेदार गहलोत सरकार है, क्योंकि इस सरकार ने करौली दंगे के मुख्य दंगाई को खुला छोड़ा। टोंक में मौलाना ने हिंदुओं की गर्दन उतारने की धमकी दी, कोई कार्रवाई नहीं हुई। यह हत्यारा भी वीडियो बनाकर नरसंहार की धमकी देता रहा, पर सरकार चुप्पी साधे रही। वहीं आम आदमी पार्टी के नेता संजय सिंह ने ट्वीट कर कहा कि ‘ये दरिन्दे हैं, इनको फांसी दो। राजस्थान सरकार जागो।
कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने वारदात की निंदा की है। उन्होंने कहा कि उदयपुर में हुई जघन्य हत्या से मैं बेहद स्तब्ध हूं। धर्म के नाम पर बर्बरता बर्दाश्त नहीं की जा सकती। इस हैवानियत से आतंक फैलाने वालों को तुरंत सख्त सजा मिले। हम सभी को साथ मिलकर नफरत को हराना है। मेरी सभी से अपील है, कृपया शांति और भाईचारा बनाए रखें।

Leave a Reply

Your email address will not be published.