ब्रेकिंग : आश्रम में 6 साल की छात्रा की तबियत बिगड़ी ,अस्पताल ले जाते समय रास्ते में मौत

Spread the love


”नरेश भीमगज की रिपोर्ट”
अंतागढ। आमाबेडा मुख्यालय मे संचालित बालिका आश्रम बेलोंडी मे अध्ययनरत कक्षा पहली की संतोषी गावडे की गुरूवार देर शाम तबियत बिगड़ी और उसकी अस्पताल जाने के पूर्व ही मौत हो गई, बताया जा रहा है की स्कूल की छुट्टी के बाद छात्रा संतोषी आश्रम मे ही मौजूद थी तब उसने तबियत को लेकर कोई शिकायत नही की थी, उसे शाम 6:30 बजे अचानक हल्की दस्त शुरू हो गई इसकी जानकारी उसने आश्रम अधिक्षिका पद्मावती चंद्रवंशी को दी जिस पर विलंब न करते हुए स्कूटी मे छात्रा को बैठाकर अस्पताल ले जाने की तैयारी की गई। इस दरमियान वह एक से दो बार शौच के लिये आश्रम परिसर मे स्थित शौचालय मे जाती रही तीसरी बार भी वह शौच की इच्छा जाहिर कर शौचालय मे गयी तभी चलने मे वह असमर्थ होकर अचेत सी हो गई। मौके से उठाकर उसे आश्रम के अंदर लाया गया जहा से हालत बिगड़ते देख छात्रा को तत्काल इलाज के लिऐ अस्पताल से एम्बुलेंस या 108 की मदद बुलाये जाने से देर होगी ये जानकर स्कूटी की मदद से मुसलाधार बारिश के बिच अधीक्षिका और छात्राये आमाबेडा अस्पताल लेकर पहुची जहां उपस्थित चिकित्सक भारती वर्मा ने उक्त छात्रा को मृत घोषित कर दिया,और मामले की जानकारी तत्काल आमाबेडा थाना को उपलब्ध कराकर विभागीय अधिकारी बीएमओ भेषज रामटेक के भी संज्ञान मे इस मामले को लाया गया।
छात्रा संतोषी गावडे जो की आमाबेडा उपतहसील अंतॅगत के तुमसनार पंचायत के राजपुर की रहने वाली थी आज शुक्रवार को छात्रा का पीएम करवा कर शव परिजनो को सौप दिया गया है। छात्रा की मौत के मामले पर बीएमओ भेषज रामटेके ने बताया की पीएम रिपोर्ट पश्चात ही छात्रा के मौत का कारण स्पष्ट हो पायेगा। उन्होने बताया की छात्रा ने सुबह नाश्ते मे पोहा तथा दोपहर के समय मध्याह्न भोजन हि किया था,मामले की संवेदनशीलता को देखते हुए परिसर मे बेलोडी बालिका आश्रम,व बालिका आश्रम आमाबेडा तथा कन्या छात्रावास संचालित है जहा की समस्त छात्राओ का आज स्वास्थ्य विभाग की टीम द्वारा स्वास्थ्य परिक्षण किया जा रहा है।
मामले की जांच को लेकर आज अंतागढ एसडी एम तहसीलदार तथा शिक्षा विभाग के अधिकारी पहुचे थे छात्रा की मौत के मामले छात्राओ तथा संबंधित अधीक्षिका से विस्तार पूर्वक पूछताछ की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.